Sale!

करेला और जामुन का रस

 150 ( 40% off )

2-3 दिनों में वितरण मुफ्त

उत्पाद विवरण
करेला और जामुन के रस को मधुमेह तथा संबंधित समस्याओं से पीडित लोगों के लिए लाभकारी माना जाता है। इसमें कम कैलोरी, उच्च आहार संबंधी फाइबर होता है तथा यह प्राकृतिक रक्त शोधक के रूप में कार्य करता है। करेला और जामुन का प्राकृतिक संयोजन भी जोड़ों के दर्द, लिवर की क्षति, अपच, पीलिया, मांसपेशियों में दर्द तथा पेट में कीड़े में मदद करता है।

• नियमित सेवन से कोलेस्टेरोल के स्तरों को प्रबंधित करने में मदद कर सकता है।
• यह इंसुलीन की संवेदनशीलता सुधार सकता है तथा रक्त शर्करा स्तरों को कम कर सकता है।
• इसमें स्वास्थ्य के लिए अच्छे प्रोटीन, एंजाइम, बैक्टीरिया होने से हृदय के स्वास्थ्य को बेहतर कर सकता है।

10% off by paying online
Cash on delivery
Free shipping

क्या शामिल है?
मात्रा: 250 मिलीलीटर की एक बोतल का पैक
शेल्फ लाइफ: निर्माण की तारीख से 18 महीने

बिना फिल्टर किए हुए तथा अपास्चरीकृत – प्राकृतिक संघटकों के गुणों के साथ स्वास्थ्य के लिए हितकर पेय का आनंद लें।

संघटक – करेला रस (89%), जामुन के बीज का सत्त 10%, अम्लीयता नियामक (E-330), परिरक्षक (E-202 E-211).

पोषण संबंधी मान – प्रति 100मिली
o एनर्जी (Kcal): 36.48
o कार्बोहाइड्रेट्स (g): 8.63
o शर्करा (g): 0
o प्रोटीन (g): 0.49
o वसा (g): 0
o विटामिन C (mg): 20.80
o पोटेशियम (mg): 30.32
o सोडियम (mg): 64.1
o लौह (mg): 5.61
o कैल्सियम (mg): 10.2
o तांबा (mg): 0.06
o जिंक (mg): 0.49

 

आहार फाइबर, खनिजों,विटामिनों और एंटी-ऑक्सीडेंट्स से समृद्ध अवयवों के कारण, रक्त में ग्लूकोज के स्वस्थ स्तर को बनाए रखने में मदद करता है। करेला में कैलोरी कम होती है,फाइटो-पोषक तत्वों से समृद्ध होता है और यह रक्त में ग्लूकोज के स्तर को नियंत्रित करने के लिए सुपरिचित आयुर्वेदिक बूटी है।

इसका सेवन कैसे करें?
• एक गिलास पानी में 1-2 बड़ा चम्मच (15-30 मिलीलीटर) मिलाएं।
• प्रत्येक सुबह खाली पेट या भोजन से 30 मिनट पहले सेवन करें।
• सेवन करने से पहले अपने मधुमेह सलाहकार या स्वास्थ्य देखभाल के पेशेवर व्यक्ति से परामर्श लें।

इस उत्पाद को किसे प्रयोग करना/खरीदना चाहिए?
आयुर्वेद में, करेला और जामुन को रक्तशोधक तथा शर्करा स्तर के प्रबंधन के संघटक के रूप में प्रयोग किया जाता है तथा यह विभिन्न सूजन और अन्य रक्त संबंधी समस्याओं को ठीक करने में मदद करता है। करेला और जामुन के संयोजन को एक अच्छे मधुमेह प्रतिरोधी घटक के रूप में बताया गया है तथा यह परंपरागत के साथ-साथ वैज्ञानिक साहित्यों में रक्त शर्करा स्तरों को प्रबंधित करने के रूप में जाना जाता है।

कैसे प्रयोग करना है?
एक गिलास पानी में 1-2 चम्मच मिलाकर प्रत्येक सुबह खाली पेट या आपके स्वास्थ्य देखभाल के पेशेवर व्यक्ति की सलाह के अनुसार सेवन करना है।.


एक बार खोल लेने के बाद क्या करना है?
एक बार खोलने के बाद आप इसे 8 डिग्री सेंटीग्रेट से कम तापमान पर ठंडा रख सकते हैं तथा 45 दिनों के अंदर सेवन कर सकते हैं।.


प्रयोग करने के लिए किन सावधानियों पर विचार किया जाना है?
गर्भवती या स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इस उत्पाद को सेवन नहीं करना चाहिए जबतक कि स्वास्थ्य देखभाल करने वाले पेशेवर व्यक्ति ने निर्देश न दिया हो। इसे सीधे तौर पर सेवन न करें तथा इस पर दिए गए निर्देश के अनुसार प्रयोग करें।

उपभोक्ता की राय

Feedback:

Contact us at our Registered Address: A-1, Ground Floor, Lane No.2, Kehar Singh Estate, Saidulajab, New Delhi-110030

Email: contact@beatoapp.com or Call  +91-78630 23286.